top of page

हास्य कवि सम्मेलन का आयोजन - FLTCC





14 सितंबर हिंदी दिवस के अवसर पर सोनीपत की भाषा एवं सांस्कृतिक संस्था( FLT CC) के बैनर तले हिंदी उत्सव का आयोजन हास्य कवि सम्मेलन के माध्यम से किया गया । इस कवि सम्मेलन में सोनीपत तथा अन्य शहरों के विद्यालयों से जाने-माने प्रसिद्ध कवि अध्यापक -अध्यापिकाओं ने अपने हास्य रस की कविताओं से सबको सरोबार कर दिया ।


सोनीपत शहर में इस संस्था के द्वारा विभिन्न अवसरों पर कई सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं लेकिन ऑनलाइन कवि सम्मेलन का यह पहला कार्यक्रम काबिल-ए-तारीफ़ रहा।


ऋषि कुल विद्यापीठ के सुषमा वशिष्ट ने अपनी 'हृदय मंथन' पुस्तक से दो कविताओं का वाचन कर सबको मंत्रमुग्ध कर दिया ।






इसी क्रम में एस बी ग्लोबल स्कूल गाजियाबाद की हिंदी अध्यापिका अंजली शर्मा ने अपनी कविता को सुना कर दर्शक दीर्घा से वाहवाही लूटी ।






कवि सम्मेलन को आगे गति देते थे दिल्ली पब्लिक स्कूल सोनीपत से प्रदीप वाधवा ने अपनी हास्य कविता सुनाकर सबको सबको हंसने के लिए लोट-पोट कर दिया। इसी प्रकार कासिगा स्कूल देहरादून से हिंदी के अध्यापक नरेश कुमार ने शैल चतुर्वेदी की हास्य कविता सुनाकर दर्शकों का खूब मनोरंजन किया।




कविताओं की इस बहती धारा में दिल्ली पब्लिक स्कूल सोनीपत के वरिष्ठ अध्यापक महीपाल पात्र ने युवावस्था की खुमारी के के दिनों के अनुभव को 'क्या खूब दिन थे' विषय पर अपनी कविता सुनाकर सबको हंसने के लिए मजबूर कर दिया।



अपनी कविताओं को ज्योति खन्ना और प्रीति कथूरिया ने बड़े ही खूबसूरत अंदाज़ में पेश कर इस हास्य कवि सम्मेलन में सबका मन मोह लिया।





विद्यार्थी अनिर्वाण मुखर्जी ने भी लोकडाउन के बाद जब बच्चे विद्यालय पहुँचेंगे तब विद्यालय की क्या स्थिति होगी विषय पर बहुत ही सुंदर एक हास्य कविता प्रस्तुत की।जिसे सभी ने करतल ध्वनि से सराहा। और अंत में इस ऑनलाइन हिंदी उत्सव में विद्यार्थी मास्टर आचमन पात्र ने भी हिंदी भाषा पर अपनी एक कविता प्रस्तुत की।





संस्था के अध्यक्ष व संचालक मिस्टर जितेंद्र मेहता ने इस काव्य सम्मेलन में भाग लेने वाले सभी कवियों और श्रोताओं का आभार व्यक्त किया।


महीपाल पात्रा

91 views0 comments

Recent Posts

See All
bottom of page